Uncategorized

Sukanya Samridhi Yojana – जानकारी, पात्रता, ब्याज दर,रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया?


Sukanya Samriddhi Yojana 2022 (SSY Scheme) : नमस्कार दोस्तों स्वागत करता हूं मैं आप सभी को अपने इस आर्टिकल में जैसा कि मैं आप सभी को बता दूं कि हमारे भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना को आरंभ किया गया है यह हमारे देश के सभी मिडिल क्लास परिवारों से तालुकात रखने वाले बालिकाओं को भविष्य में होने वाले आर्थिक समस्याओं से बचाने के लिए इस योजना को आरंभ किया गया है इस योजना के अंतर्गत माता पिता के द्वारा उनकी बालिका की आयु 10 वर्ष पूरी हो जाने की पहले इसके अंतर्गत निवेश खाता खोला जाएगा यह निवेश बैंक खाता या पोस्ट ऑफिस में खोला जा सकता है जिसमें बालिका के माता पिता के द्वारा न्यूनतम ₹250 और अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक इसमें आप प्रतिमा निवेश के रूप में जमा कर सकते हैं और अगर आप भी अपने बालिका का भविष्य सुरक्षित करने के लिए अगर आप भी Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) 2022 के तहत अपनी बालिका का निवेश खाता खुलवाना चाहते हैं तो आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें जिससे आप भी सुकन्या समृद्धि योजना (SSY Yojana 2022) के अंतर्गत आवेदन करें तो आपको किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना ना पड़े और आप भी आसानी से Sukanya Samriddhi Yojana (SSY Scheme) 2022 का लाभ उठा सकते हैं।

,sukanya samriddhi yojana hindi ,Sukanya Samriddhi Yojana ,sukanya samriddhi yojana 2022 ,sukanya samriddhi yojana 2022 interest rate ,SSY Yojana 2022 ,sukanya samriddhi yojana details ,सुकन्या समृद्धि योजना ,सुकन्या समृद्धि योजना 2022 ,sukanya samriddhi yojana official website online apply ,सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट बैलेंस चेक

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है – what Is SSY Scheme

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) – हमारे केंद्र सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली यह सुकन्या समृद्धि योजना के तरह के निवेश बचत योजना है जो कि देश में 10 वर्ष से कम उम्र की सभी बालिकाओं के माता-पिता को उनका भविष्य सुरक्षित करने के लिए इसके अंतर्गत पैसा जमा करना होता है और यह योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत चलाया जाता है इस योजना के तहत माता-पिता के द्वारा उन सभी बालिकाओं को इसमें निवेश खाता खोला जाता है जो कि उनके एक ही साल  18 साल की आयु पूरी होने के बाद उनकी शादी या उनकी आगे की पढ़ाई के लिए उनको दिया जाता है लेकिन इस खाते में 15 साल तक ही जमा कर सकते हैं। सत्र 2022-23 के अंतर्गत खाते में जमा की गई धनराशि पर 7.66 प्रतिशत किधर से उन्हें ब्याज दिया जाएगा और इसके साथ ही SSY Scheme के तहत 1 साल में अधिकतम 1.5 लख रुपए जमा किया जा सकता है जोकि आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के तहत टैक्स में छूट भी दिया जाएगा। SSY: सरकारी योजना से आपकी बिटिया को मिल सकता है टैक्स फ्री 66 लाख रुपया|

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY Scheme) : यदि आप अपने बेटी उसकी बातों को लेकर परेशान हैं अपनी बेटी की इस साल के बाद शादी की जरूरत पड़ेगी और अगर आप भी अपनी बिटिया को बढ़िया कॉलेज और बढ़िया तरीके से आगे की पढ़ाई करवाना चाहते हैं और आप अपनी बिटिया को डॉक्टर इंजीनियर बनवाना चाहते हैं इसके लिए ज्यादा खर्च होगी और आप इस बातों से ही परेशान हैं आपको यह बातों के लिए चिंतित होने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस आर्टिकल में मैं आपको एक ऐसी योजना के बारे में बताना चाहता हूं जिसके अंतर्गत आप आवेदन करके बहुत ज्यादा अच्छी तरह से इसका लाभ उठा सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana (सुकन्या समृद्धि योजना) 2022 के अंतर्गत निर्धारित निवेश सीमा

Sukanya Samriddhi Yojanaजो भी खाताधारक होंगे वह 1 साल में इस योजना के अंतर्गत न्यूनतम ₹250 और अधिकतम ₹100000 तक जमा कर सकते हैं यह राशि खाताधारक 15 साल तक जमा करने पड़ेंगे और यदि आप 8 साल की है तो आपको साल 23 साल तक इस खाते में निवेश राशि जमा करने अनिवार्य है इसके बाद में निवेश मिलता रहेगा।जैसा कि आप सभी को बता दो कि यह योजना केंद्र सरकार के द्वारा आरंभ की गई योजना है जिसके अंतर्गत Sukanya Samriddhi Yojana/सुकन्या समृद्धि योजना में एक तरह से यह निवेश योजना है जो देश के जितने भी बेतिया है सभी के शादी और उसकी पढ़ाई और उसकी शादी के लिए सभी बच्चों के माता पिता को उसकी शादी के लिए बहुत ज्यादा चिंतित होते है जिसकी अंतर्गत यार योजना हमारे देश के सभी जितने भी 10 वर्ष से कम उम्र के जितने भी बालिका है उन सभी को उनके माता-पिता को उनके भविष्य के बारे में बहुत ज्यादा चिंतित खोते हैं और उनके भविष्य तो बेहतर बढ़ाने के लिए निवेश करने के लिए आकर्षित करती रहती है|

Sukanya Samriddhi Yojana – बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का ही एक भाग है Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत उन सभी के माता पिता के द्वारा बालिका के खाता में पैसे को जमा करा दिया जाता है और पालिका के नाम से ही खाता खोला जाता है जब बालिका एक ऐसा लिया था साल की आयु की वो जाती है तब उसके बाद उसकी शादी कैसे किया जाता है खाते में 15 साल तक कैसे को जमा करना अनिवार्य है सत्र 2022 से 23 के अंतर्गत खाते की अंतर्गत जमा की गई धनराशि का 7.6 परसेंट की दर से ब्याज देगी और इसके साथ ही इस योजना के अंतर्गत 1 साल में अधिकतम डेढ़ लाख रुपया तक जमा कर सकते हैं और डेढ़ लाख रुपया निवेश करने पर आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के अंतर्गत टैक्स में छूट भी दिया जाएगा।

बालिका की 18 वर्ष की आयु पूरी होने पर निकल सकती है 50% निवेश राशि

Sukanya Samriddhi Yojana 2022 – हम आप सभी को बता दें कि इस योजना के अंतर्गत खोले गए आपके खाते में 15 साल तक निवेश करना अनिवार्य रखा गया है लेकिन अगर आपकी चलने 18 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद या दसवीं कक्षा पास करने के बाद अपनी पढ़ाई करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना/Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत आपके खाते से 50% की राशि से निकल सकती है या धनराशि उसके माता-पिता का कानून के द्वारा एक साथ क्या किस्तों में निकाली जा सकती है परंतु एक वर्ष में एक ही बार अधिकतम 5 साल तक किस्त में धंधा से निकाली जा सकती है।

Sukanya Samriddhi Yojana 2022 Highlights

🔥 योजना का नाम 🔥 सुकन्या समृद्धि योजना
🔥 शुरू की गई 🔥 केंद्र सरकार द्वारा
🔥 लाभार्थी 🔥 देश की 10 वर्ष की आयु से कम की बालिकाएं
🔥 उद्देश्य 🔥 बालिकाओं को भविष्य मे होने वाले आर्थिक समस्या से बचाना
🔥 साल 🔥 2022

PNB के तहत दिया जाएगा Sukanya Samriddhi Yojana (सुकन्या समृद्धि योजना) का लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना 2022 का लाभ अब पंजाब नेशनल बैंक(PNB) द्वारा भी दिया जाएगा। यह एक सरकारी योजना है जो केंद्र सरकार द्वारा ‌10 साल से कम आयु की बालिकाओं के लिए शुरू की गई है। पंजाब नेशनल बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के माध्यम से यह सूचना दी है कि अब सुकन्या समृद्धि योजना के माध्यम से 10 साल से कम आयु वाली बालिकाएं पीएनबी में सुकन्या खाता खोलकर न्यूनतम 250 रुपये से अधिकतम 1.5 लाख तक वित्तीय वर्ष में जमा कर सकते हैं। जिस पर आयकर लाभ में 80सी के तहत छूट का फायदा मिलेगा। साथ ही सालाना आकर्षक दर से ब्याज मिलेगा। PNB ने इस “नवरात्रि, लीजिए एक कदम अपनी बेटी के सुरक्षित भविष्य की तरफ” टैगलाइन के साथ यह सूचना दी है।

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) 2022 टैक्स फ्री

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY)- हम आपको बता दें कि भारत सरकार के द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना 2022 को टैक्स फ्री रखा गया है इस योजना के अंतर्गत आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 C के तहत डेढ़ लाख रुपए तक निवेश की राशि पर कोई टैक्स नहीं लगाया जा सकता है इस योजना के अंतर्गत निवेश की राशि और उस पर अर्जित ब्याज के साथ साथ परिपक्वता राशि पर भी कोई टैक्स नहीं लगता है इस योजना के जो भी खाता धारक है उसकी बचत को सुरक्षित रखने के साथ-साथ उन्हें टैक्स भी नहीं लगेगा और वर्टेक्स से भी बच जाते हैं।

अब 7.6% की दर से SSY खाते पर प्रदान किया जाता है ब्याज

जो भी Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत पैसे को निवेश करेंगे उनको इसी योजना के अंतर्गत पाली निवेश पर 8.4% की दर से ब्याज दिया जाता था लेकिन अब इसे घटाकर 7.6% की दर से ब्याज दिया जाता है और इसके साथ ही या ब्याज की राशि का मुक्त कर दिया जाता है और इस योजना के अंतर्गत निवेश के पैसे 9 वर्ष 4 महीने में दोगुने हो जाते हैं अगर Sukanya Samriddhi Yojana 2022 के अंतर्गत निवेश प्रतिदिन एक सौ रुपया की हिसाब से जमा करता है तो उसको परिपक्वता अवधि पर 1500000 रुपए का फंड प्राप्त हो सकता है ऐसे ही अगर निवेशक प्रतिदिन के हिसाब से ₹416 जमा करता है तो उसको परिपक्वता अवधि पर 65 लाख रुपया का फंड प्राप्त होगा।

SSY (Sukanya Samriddhi Yojana) खाता किन परिस्थितियों में परीक्षित पक्का अवधि से पहले बंद किया जा सकता है

  • 18 साल की आयु हो जाने पर शादी के लिए अगर बालिका के द्वारा 18 साल की आयु हो जाने के बाद अपने शादी के खर्च के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खाद्य की परिपक्वता अवधि से पहले बंद किया जा सकता है।
  • खाता धारक की आकस्मिक मृत्यु होने के स्थिति में अगर बालिका की स्थिति हो जाती है तो इस स्थिति में बालिका के माता पिता या कानूनी अभिभावक Sukanya Samriddhi Yojana की खाते से जमा की गई राशि और उस पर अर्जित ब्याज निकाल सकते हैं यार आप से निकालने के लिए माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा खाता धारक की मृत्यु हो जाने से जुड़े संबंधित अधिकारी द्वारा वेरीफाई हुए दस्तावेजों को जमा करना होगा और इसके बाद तुरंत माता-पिता या कानूनी अभिभावक के खाते में या धनराशि हस्तांतरित कर दी जाएगी।
  • आर्थिक रूप से खाता जारी रखने असमर्थ होने पर अगर बालिका के माता-पिता आर्थिक रूप से खाता जारी रखने में असमर्थ हो चुके हैं तो इस स्थिति में भी वह खाते को बंद करा सकते हैं लेकिन इसके लिए उन्हें संबंधित अधिकारी से अनुमति लेनी अनिवार्य होगी।

Sukanya Samriddhi Yojana 2022 का उद्देश्य

हम बता दें कि आप को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी क्या इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को भविष्य में आने वाली आर्थिक समस्या से बचाना है क्योंकि इस महंगाई के दौर में मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखने वाले जितने भी माता-पिता हैं उनको अपनी बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करवाते समय और शादी करते समय बहुत आर्थिक स्थिति और बहुत ज्यादा गरीबी की समस्या को देखते हुए उनकी स्थिति खराब हो जाने की वजह से उन्हें बहुत सारी समस्याओं से जूझना पड़ता है यह सभी बातों को ध्यान में रखते हुए हमारे प्रधानमंत्री जी ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की है इस योजना के तहत देशभर के सभी मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखने वाले माता-पिता या कानूनी अभिभावक आसानी से इसमें पैसे निवेश कर सकते हैं क्योंकि इस योजना के अंतर्गत खोले गए खाते में न्यूनतम ₹250 तक जमा कर सकते हैं इस समय सुकन्या समृद्धि योजना 2022 देश के सभी लड़कियों को एक आत्मनिर्भर जीवन जीने का हकदार बना रही है और उनके साथ ही उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए उन सभी लड़कियों को प्रेरित भी कर रही है।

सुकन्या समृद्धि योजना खाता ट्रांसफर

SSY खाताधारकों को देश के किसी भी एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में या किसी एक बैंक से दूसरे बैंक में समृद्धि योजना 2022 के खाते को निशुल्क ट्रांसफर करने की सुविधा प्रदान की जाती है। यह सुविधा तब प्रदान की जाएगी जब  खाताधारक अपने मूल जगह से कहीं ओर शिफ्ट हो जाता है। इस सुविधा को प्राप्त करने के लिए खाताधारक को शिफ्ट होने का सबूत दिखाना होगा। यदि वह शिफ्ट होने का सबूत नहीं दिखाता है तो उसे जहां उसका खाता खुला हुआ है वहां पर ₹100 शुल्क अदा करना होगा। देश के जिस बैंक या पोस्ट ऑफिस में कोर बैंकिंग सिस्टम की सुविधाएं उपलब्ध है तो वहां पर SSY खाता इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ट्रांसफर किया जाता है।

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) 2022 के लाभ

  • मोदी सरकार द्वारा देश की 10 साल की आयु से कम की बालिकाओं के भविष्य को आर्थिक तंगी से बचाने के लिए इस योजना को संचालित किया गया है।
  • यह योजना खाताधारक को निवेश राशि पर 7.6% की दर से ब्याज प्रदान करती है जो टैक्स फ्री होता है।
  • केंद्र सरकार द्वारा संचालित की जाने वाली अन्य योजनाओं के तुलना में Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) 2022 निवेशकों को अधिक ब्याज दर पर गारंटी के साथ रिटर्न प्रदान करती है।
  • निवेशक SSY Yojana 2022 के तहत अपनी वित्तीय स्थिति के अनुसार हर साल न्यूनतम ₹250 और अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक निवेश कर सकता है।
  • इस योजना के तहत आयकर अधिनियम  की धारा 80C के तहत हर साल ₹500000 तक के कर में छूट प्रदान की जाती है।

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत पात्रता

  • बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा ही बालिका का सुकन्या समृद्धि खाता खोला जा सकता है।
  • माता-पिता या अभिभावक को भारत का स्थाई निवासी होना आवश्यक है।
  • 10 वर्ष की आयु से कम की बालिका का भी इस योजना के तहत खाता खोला जा सकता है और पैसा जमा किया जा सकता है।
  • एक परिवार की केवल जो लड़कियों का ही इस योजना के अंतर्गत खाता खोला जा सकता है यदि किसी परिवार में एक लड़की के बाद जुड़वा लड़कियां जन्म लेती है तो इस दशा में जुड़वा लड़कियों का अलग-अलग खाता खोला जा सकता है।

आवश्यक दस्तावेज

  • माता-पिता या कानूनी अभिभावक का आधार कार्ड, पैन कार्ड, पहचान पत्र जिनके द्वारा संचालित किया जाता है।
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • चिकित्सा प्रमाण पत्र
  • बैंक या डाकघर द्वारा मांगे जाने वाली सभी आवश्यक दस्तावेज

Sukanya Samriddhi Yojana (सुकन्या समृद्धि योजना) 2022 के अंतर्गत अकाउंट खोलने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले माता-पिता या कानूनी अभिभावक को Sukanya Samriddhi Yojana/सुकन्या समृद्धि योजना का आवेदन फॉर्म को पोस्ट ऑफिस या अपने नजदीकी बैंक से प्राप्त करना है।
  • अब आपको इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़कर भरना है।
  • इसके बाद मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेजों को फॉर्म से अटैच कर देना है।
  • अब आपको जॉब फॉर्म उसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में जमा करना है जहां से आप ने इसे प्राप्त किया था।
  • इस तरह से आप सुकन्या समृद्धि योजना 2022 के अंतर्गत अपना आवेदन कर सकते हैं।

अपने SSY खाते का बैलेंस चेक कैसे करें

  • सबसे पहले आपको अपने बैंक से लॉगइन क्रैडेंशियल्स प्राप्त करने का निवेदन करना है।
  • लॉगइन क्रैडेंशियल्स सभी बैंकों के द्वारा जिया नहीं जाता केवल कुछ विशेष बैंक की क्या सुविधा देते हैं।
  • अब लॉगइन क्रैडेंशियल्स प्राप्त करने के बाद आपको बैंक के इंटरनेट मार्ग बैंकिंग पोर्टल पर लॉगइन करना है।
  • इसके बाद आपके सामने होम पेज पर खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको कंफर्म बैलेंस के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने सुकन्या समृद्धि खाते की राशि खुलकर आ जाएगी।
  • आप केवल इसी माध्यम से सुकन्या समृद्धि खाते का बैलेंस चेक कर सकते हैं।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 Follow US On Google News Click Here
🔥 Whatsapp Group Join Now Click Here
🔥 Facebook Page Click Here
🔥 Instagram Click Here
🔥 Telegram Channel Techgupta Click Here
🔥 Telegram Channel Sarkari Yojana Click Here
🔥 Twitter Click Here
🔥 Website  Click Here

click here

FAQ Questions Related to Sukanya Samriddhi Yojana

✔ सुकन्या समृद्धि योजना क्या है ?

हमारे केंद्र सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली यह सुकन्या समृद्धि योजना के तरह के निवेश बचत योजना है जो कि देश में 10 वर्ष से कम उम्र की सभी बालिकाओं के माता-पिता को उनका भविष्य सुरक्षित करने के लिए इसके अंतर्गत पैसा जमा करना होता है और यह योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत चलाया जाता है इस योजना के तहत माता-पिता के द्वारा उन सभी बालिकाओं को इसमें निवेश खाता खोला जाता है जो कि उनके एक ही साल  18 साल की आयु पूरी होने के बाद उनकी शादी या उनकी आगे की पढ़ाई के लिए उनको दिया जाता है लेकिन इस खाते में 15 साल तक ही जमा कर सकते हैं। सत्र 2022-23 के अंतर्गत खाते में जमा की गई धनराशि पर 7.66 प्रतिशत किधर से उन्हें ब्याज दिया जाएगा और इसके साथ ही इस योजना के तहत 1 साल में अधिकतम 1.5 लख रुपए जमा किया जा सकता है जोकि आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के तहत टैक्स में छूट भी दिया जाएगा|

✔ बालिका की 18 वर्ष की आयु पूरी होने पर कितना पैसा निकला जा सकता है ?

हम आप सभी को बता दें कि इस योजना के अंतर्गत खोले गए आपके खाते में 15 साल तक निवेश करना अनिवार्य रखा गया है लेकिन अगर आपकी चलने 18 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद या दसवीं कक्षा पास करने के बाद अपनी पढ़ाई करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत आपके खाते से 50% की राशि से निकल सकती है या धनराशि उसके माता-पिता का कानून के द्वारा एक साथ क्या किस्तों में निकाली जा सकती है परंतु एक वर्ष में एक ही बार अधिकतम 5 साल तक किस्त में धंधा से निकाली जा सकती है।

✔ Sukanya samriddhi Yojana 2022 का उद्देश्य क्या है ?

हम बता दें कि आप को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी क्या इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को भविष्य में आने वाली आर्थिक समस्या से बचाना है क्योंकि इस महंगाई के दौर में मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखने वाले जितने भी माता-पिता हैं उनको अपनी बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करवाते समय और शादी करते समय बहुत आर्थिक स्थिति और बहुत ज्यादा गरीबी की समस्या को देखते हुए उनकी स्थिति खराब हो जाने की वजह से उन्हें बहुत सारी समस्याओं से जूझना पड़ता है यह सभी बातों को ध्यान में रखते हुए हमारे प्रधानमंत्री जी ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की है इस योजना के तहत देशभर के सभी मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखने वाले माता-पिता या कानूनी अभिभावक आसानी से इसमें पैसे निवेश कर सकते हैं क्योंकि इस योजना के अंतर्गत खोले गए खाते में न्यूनतम ₹250 तक जमा कर सकते हैं इस समय सुकन्या समृद्धि योजना 2022 देश के सभी लड़कियों को एक आत्मनिर्भर जीवन जीने का हकदार बना रही है और उनके साथ ही उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए उन सभी लड़कियों को प्रेरित भी कर रही है।

✔ सुकन्या समृद्धि का क्या नियम है?

क्या कहता है नियमसुकन्या समृद्धि योजना के तहत अकाउंट खुलने के बाद किसी भी फाइनेंशियल ईयर में आपने 250 रुपये का निवेश नहीं किया तो 50 रुपये का जुर्माना लग जाएगा। बता दें कि एक वित्त वर्ष में आप सालाना मिनिमम 250 रुपये का निवेश तो मैक्सिमम 1.5 लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं।

✔ सुकन्या खाता खोलने से क्या फायदा है?

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Scheme) में खाता खोलने पर आप कम से कम 250 रुपये जमा कर सकते हैं. वहीं अधिकतम आप इस योजना पर 1.5 लाख रुपये एक साल में निवेश कर सकते हैं. इस योजना के तहत आपको केवल 15 साल तक पैसे निवेश करने होते हैं. इसके बाद आप 15 साल बाद जमा राशि पर बच्ची के 21 साल तक के होने पर ब्याज मिलता है |

✔ सुकन्या समृद्धि योजना में पैसा कब निकाल सकते हैं?

यह स्कीम तब मैच्योर होगी, जब बेटी 21 साल की हो जाएगी। इसमें जमा कराए गए पैसे को बिटिया के 18 साल की होने तक निकलवाया नहीं जा सकता। 18 साल के बाद भी इस स्कीम से कुल राशि का 50 फीसदी हिस्‍सा ही निकाला जा सकता है। बेटी के 21 साल के होने पर पूरा पैसा मिल जाएगा।

✔ क्या सुकन्या टैक्स फ्री है?

मूलधन पर अर्जित ब्याज प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में पॉलिसीधारक के खाते में जमा किया जाता है। एसएसवाई के तहत संचित ब्याज राशि आईटी अधिनियम के तहत कर मुक्त रहती है ।

The post Sukanya Samridhi Yojana – जानकारी, पात्रता, ब्याज दर,रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया? appeared first on Sarkari Yojana | सरकारी योजना सूची 2022.





Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button